33.1 C
Delhi
Monday, September 27, 2021
spot_img

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट ने कहा, न WTC पॉइंट्स की चिंता, न टेस्ट की परवाह, ईसीबी को सिर्फ 400 करोड़ रुपये की चाह


हाइलाइट्स

  • सलमान बट ने कहा इंग्लैंड बोर्ड को WTC अंकों की चिंता नहीं
  • बट ने कहा कि 40 मिलियन पाउंड की रकम के लिए ईसीबी गया आईसीसी के पास
  • मैनचेस्टर टेस्ट के इंशोरेंस की रकम करीब 40 मिलियन पाउंड है
  • कोविड मामलों के चलते भारत और इंग्लैंड का मैनचेस्टर टेस्ट रद्द हुआ

नई दिल्ली
सलमान बट (Salman Butt) ने इंग्लैंड ऐंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (England and Wales Cricket Board) यानी ईसीबी पर बड़ा आरोप लगाया है। पूर्व पाकिस्तानी कप्तान का कहना है कि ईसीबी का बीसीसीआई (BCCI) के साथ पांचवें टेस्ट के कैंसिल होने के विवाद में सिर्फ इसलिए उलझा ताकि वह 40 मिलियन पाउंड के नुकसान की रकम इंशोरेंस से वसूल सके। बट के मुताबिक इंग्लैंड बोर्ड को मैच या फिर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पॉइंट्स की कोई परवाह नहीं है।

पाकिस्तान के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज का यह बयान उन हालिया चर्चाओं के बाद सामने आया है जिनमें कहा गया था कि ईसीबी ने आईसीसी के पास अपील की है वह भारत के खिलाफ रद्द हुए टेस्ट मैच पर फैसला ले। ईसीबी क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था से इस पर राय चाहता था कि इस मैच को रद्द माने जाने की वजह क्या हो।

ईसीबी असल में 40 मिलियन पाउंड (करीब 410 करोड़ भारतीय रुपये) को लेकर परेशान है। उन्हें सिर्फ बीमे के दावे की चिंता है और अपने अनुरोध में उन्होंने मैच का जिक्र भी नहीं किया है।

सलमान बट

ईसीबी ने पहले कहा था कि चूंकि भारतीय टीम इस मैच को खेलने से पीछे हटी है इस वजह से इसमें मेजबान टीम को विजेता माना जाना चाहिए। हालांकि बाद में उसने इससे अपने पांव पीछे खींच लिए थे। सीरीज का नतीजा क्या रहा इस पर कोई आखिरी फैसला नहीं हुआ है। अगर आईसीसी इसमें भारत को पीछे हटा मानता है तो सीरीज 2-2 से बराबर होगी वर्ना भारत सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लेगा।

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली का खुलासा- भारतीय खिलाड़ियों ने खेलने से किया था इनकार
इस मुद्दे पर सलमान बट ने अपने यूट्यूब चैनल पर अपनी राय साझा की। उन्होंने कहा, ‘ईसीबी असल में 40 मिलियन पाउंड (करीब 410 करोड़ भारतीय रुपये) को लेकर परेशान है। उन्हें सिर्फ बीमे के दावे की चिंता है और अपने अनुरोध में उन्होंने मैच का जिक्र भी नहीं किया है। उन्होंने सिर्फ इतना लिखा है कि अगर आईसीसी यह लिख दे कि मैच भारत के पीछे हटने के वजह से रद्द हुआ है तो हमें इंशोरेंस के पैसे मिल जाएंगे। वह यह नहीं कह रहे, ‘ईश्वर के लिए मैच खेल लो, पॉइंट्स बहुत जरूरी हैं। हम इस सीरीज को हारना नहीं बल्कि 2-2 से बराबर करना चाहते हैं।’ उन्होंने इस तरह का कुछ नहीं लिखा है।’

1200x900_NBT_1 (2)

ईसीबी ने अपने लैटर में लिखा है कि भारतीय खिलाड़ी कोविड-19 से नेगेटिव पाए गए थे और इसके बावजूद उन्होंने आईपीएल के चलते मैनचेस्टर टेस्ट को खेलने इनकार कर दिया। इस बीच बीसीसीआई (BCCI) ने ईसीबी को ऑफर दिया है कि अगले साल जब भारतीय टीम इंग्लैंड का दौरा करेगी तो वह टेस्ट पूरा करने के अलावा दो और टी20 इंटरनैशनल मैच खेल लेगी।

बुमराह और शाहीन अफरीदी को पछाड़ रूट ने जीता प्लेयर ऑफ द मंथ अवॉर्ड
बट ने कहा कि मामला आईसीसी के पास इसलिए पहुंचा कि बीसीसीआई (BCCI) के साथ ईसीबी की बात नहीं बन सकी। बट ने यह भी कहा कि आईसीसी के लिए भी इस पर फैसला लेना इतना आसान नहीं होगा क्योंकि दोनों टीमों के अपने तर्क हैं।

butt



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0FollowersFollow
- Advertisement -

Latest Articles