33.1 C
Delhi
Monday, September 27, 2021
spot_img

दिल्ली-एनसीआर में मानसून : आज भी तेज बारिश के आसार, यलो अलर्ट


सार

मौसम विभाग ने सप्ताहभर बरसात होने की संभावना जताई है और कहा कि इस हफ्ते टूट सकते हैं कई पुराने रिकॉर्ड। 

बारिश का एक दृश्य
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

राजधानी में शनिवार को रिकॉर्ड दर्ज कराने के बाद सोमवार को एक बार फिर तेज बारिश के आसार हैं। अगले 24 घंटे के लिए मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है। हालांकि, पूरे सप्ताह बारिश होने की संभावना है। अभी तक इस सीजन दिल्ली में 1133 मिमी बारिश हो गई है, जबकि इससे पहले 1975 में 1155 मिमी दर्ज हुई थी। मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि इस सप्ताह की बारिश दिल्ली में पुराने रिकॉर्ड को भी ध्वस्त कर सकती है।

मौसम विभाग ने रविवार के लिए भी ऑरेंज अलर्ट जारी किया था। सुबह के समय सूरज की कड़ी तपिश रही, लेकिन दोपहर तक मौसम ने करवट ली और कुछ देर के लिए मध्यम स्तर की बारिश दर्ज की गई। शाम तक बादलों ने डेरा डाले रखा, परंतु बारिश नहीं हुई। पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 41.1 मिमी बारिश हुई है, जबकि सुबह साढ़े नौ से शाम पांच बजे तक 0.8 मिमी बारिश का रिकॉर्ड रहा।

मौसम विभाग के मुताबिक, रविवार को अधिकतम तापमान सामान्य के बराबर 33.4 व न्यूनतम तापमान सामान्य से दो कम 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली के अन्य मानक केंद्रों की बात करें तो पालम में 33, लोधी रोड पर 33, आया नगर में 32, गुरुग्राम में 30.6, नोएडा में 33.8 व मयूर विहार में 32 डिग्री सेल्सियस अधिकतम पारा रहा।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अगले 24 घंटे में दिल्ली में बादल छाए रहेंगे और तेज बारिश की संभावना है। इसके अगले दिन धूप की तपिश झेलने पड़ सकती है। बुधवार से मौसम फिर करवट लेगा और लगातार चार दिन तक मेघ बरस सकते हैं। एक दिन पहले ही दिल्ली में लगातार बारिश ने सितंबर में पिछले 44 साल का रिकॉर्ड को तोड़ा था। सितंबर में अभी तक 380 मिमी बारिश हुई है, इससे पहले का रिकॉर्ड 417 मिमी का है। पूरे सीजन 121 साल में दूसरी बार सितंबर में इतनी अधिक बारिश दर्ज हुई है। 

बारिश से साफ हुई हवा
लगातार बारिश ने दिल्ली-एनसीआर की हवा को साफ किया है। रविवार को ग्रेटर नोेएडा की हवा 46 एक्यूआई के साथ सबसे साफ दर्ज हुई है। इसके अलावा अन्य शहरों की हवा संतोषजनक श्रेणी में रही। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, दिल्ली का औसतन वायु गुणवत्ता सूचकांक 60 रहा। फरीदाबाद का 57, गाजियाबाद का 52, गुरुग्राम का 54 व नोेएडा का एक्यूआई 70 रहा। अगले तीन दिन में भी इसमें बदलाव नहीं होने की संभावना है। 

लगातार बारिश से उम्मीद है कि हवा की गुणवत्ता और भी बेहतर हो सकती है। एक सितंबर को अधिक बारिश होने की वजह से एनसीआर के सभी शहरों की हवा साफ श्रेणी में दर्ज हुई थी। इसमें भी सबसे साफ हवा गुरुग्राम की दर्ज की गई थी। सीपीसीबी के अनुसार, लगातार बारिश होने की वजह से प्रदूषित तत्व बूंदों के साथ घुलकर जमीन में बैठ जाते हैं। सड़कों से उड़ने वाली धूल भी न के बराबर हो जाती है। इससे वायु गुणवत्ता पर प्रभाव पड़ता है और यह साफ हो जाती है।

एक सितंबर को ये थी स्थिति
शहर    एक्यूआई
दिल्ली    64
गाजियाबाद    49
नोएडा    42
ग्रेटर नोएडा    34
ग्रेटर नोएडा    32

विस्तार

राजधानी में शनिवार को रिकॉर्ड दर्ज कराने के बाद सोमवार को एक बार फिर तेज बारिश के आसार हैं। अगले 24 घंटे के लिए मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है। हालांकि, पूरे सप्ताह बारिश होने की संभावना है। अभी तक इस सीजन दिल्ली में 1133 मिमी बारिश हो गई है, जबकि इससे पहले 1975 में 1155 मिमी दर्ज हुई थी। मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि इस सप्ताह की बारिश दिल्ली में पुराने रिकॉर्ड को भी ध्वस्त कर सकती है।

मौसम विभाग ने रविवार के लिए भी ऑरेंज अलर्ट जारी किया था। सुबह के समय सूरज की कड़ी तपिश रही, लेकिन दोपहर तक मौसम ने करवट ली और कुछ देर के लिए मध्यम स्तर की बारिश दर्ज की गई। शाम तक बादलों ने डेरा डाले रखा, परंतु बारिश नहीं हुई। पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 41.1 मिमी बारिश हुई है, जबकि सुबह साढ़े नौ से शाम पांच बजे तक 0.8 मिमी बारिश का रिकॉर्ड रहा।

मौसम विभाग के मुताबिक, रविवार को अधिकतम तापमान सामान्य के बराबर 33.4 व न्यूनतम तापमान सामान्य से दो कम 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली के अन्य मानक केंद्रों की बात करें तो पालम में 33, लोधी रोड पर 33, आया नगर में 32, गुरुग्राम में 30.6, नोएडा में 33.8 व मयूर विहार में 32 डिग्री सेल्सियस अधिकतम पारा रहा।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अगले 24 घंटे में दिल्ली में बादल छाए रहेंगे और तेज बारिश की संभावना है। इसके अगले दिन धूप की तपिश झेलने पड़ सकती है। बुधवार से मौसम फिर करवट लेगा और लगातार चार दिन तक मेघ बरस सकते हैं। एक दिन पहले ही दिल्ली में लगातार बारिश ने सितंबर में पिछले 44 साल का रिकॉर्ड को तोड़ा था। सितंबर में अभी तक 380 मिमी बारिश हुई है, इससे पहले का रिकॉर्ड 417 मिमी का है। पूरे सीजन 121 साल में दूसरी बार सितंबर में इतनी अधिक बारिश दर्ज हुई है। 

बारिश से साफ हुई हवा

लगातार बारिश ने दिल्ली-एनसीआर की हवा को साफ किया है। रविवार को ग्रेटर नोेएडा की हवा 46 एक्यूआई के साथ सबसे साफ दर्ज हुई है। इसके अलावा अन्य शहरों की हवा संतोषजनक श्रेणी में रही। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, दिल्ली का औसतन वायु गुणवत्ता सूचकांक 60 रहा। फरीदाबाद का 57, गाजियाबाद का 52, गुरुग्राम का 54 व नोेएडा का एक्यूआई 70 रहा। अगले तीन दिन में भी इसमें बदलाव नहीं होने की संभावना है। 

लगातार बारिश से उम्मीद है कि हवा की गुणवत्ता और भी बेहतर हो सकती है। एक सितंबर को अधिक बारिश होने की वजह से एनसीआर के सभी शहरों की हवा साफ श्रेणी में दर्ज हुई थी। इसमें भी सबसे साफ हवा गुरुग्राम की दर्ज की गई थी। सीपीसीबी के अनुसार, लगातार बारिश होने की वजह से प्रदूषित तत्व बूंदों के साथ घुलकर जमीन में बैठ जाते हैं। सड़कों से उड़ने वाली धूल भी न के बराबर हो जाती है। इससे वायु गुणवत्ता पर प्रभाव पड़ता है और यह साफ हो जाती है।

एक सितंबर को ये थी स्थिति

शहर    एक्यूआई

दिल्ली    64

गाजियाबाद    49

नोएडा    42

ग्रेटर नोएडा    34

ग्रेटर नोएडा    32



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0FollowersFollow
- Advertisement -

Latest Articles